मजहब को यह मौका न मिलना चाहिए कि वह हमारे साहित्यिक, सामाजिक, सभी क्षेत्रों में टाँग अड़ाए। - राहुल सांकृत्यायन।

Find Us On:

English Hindi
1 / 4
होली है
होली है
2 / 4
होली है
होली है
3 / 4
नया वर्ष शुभ हो
नया वर्ष शुभ हो
4 / 4
होली है
होली है
Loading

मई-जून 2017

मई-जून 2017

मई-जून २०१७ का यह अंक आपको भेंट.  इस अंक में कहानी, कवितायेँ व आलेख.

हिंदी-दिवस पर आप सभी पाठकों को शुभ-कामनाएं ।  सम्पूर्ण अँक यहाँ पढ़ें ।  


1975 से विश्व हिंदी सम्मेलन संसार के विभिन्न देशों में आयोजित किए जाते रहे हैं। 2015 में दसवें विश्व हिंदी सJhandaम्मेलन का आयोजन 10 से 12 सितंबर तक भारत में मध्य प्रदेश राज्य के भोपाल नगर में किया गया था।  प्रथम विश्व हिंदी सम्मेलन 10-12 जनवरी 1975 को नागपुर, भारत में आयोजित किया गया था। विश्व हिंदी सम्मेलनों के प्रमुख लक्ष्य हिंदी भाषा का प्रचार एवं प्रसार करना व इसे विश्व भाषा के रूप में स्थापित करना है। 

2015 में 10वें विश्व हिंदी सम्मेलन के अवसर पर भोपाल पूर्णतया हिंदीमय दिखाई पड़ता था। भोपाल की सड़के, चौराहे व भवन सब हिंदीमय थे। आइए, विश्व-हिंदी सम्मेलन की चित्र-दीर्घा देखें।

इस अँक में  हिंदी दिवस पर विशेष सामग्रीन्यूज़ीलैंड की हिंदी पत्रकारिता, सुभाषचंद्र बोस के विचार में,'हिंदी और राष्ट्रीय एकता'।  

इस अंक में पढ़िए - शरतचंद्र की कहानी, 'विलासी',  सुशांत सुप्रिय की कहानी, 'बदबू'।

 

गाँधी जयंती व लालबहादुर शास्त्री जयंती पर विशेष सामग्री । 

Our News

अप्रैल महीने का नामकरण

अप्रैल महीने की उत्पत्ति लैटिन शब्द *ऑपिरिरे* (Aperire) से हुई। इसका अर्थ है खुलना। रोम में इसी माह कलियाँ खिलकर फूल बनती....

new test123

सब्स्क्रिप्शन

सर्वेक्षण

प्रेमचंद कौन थे? 

हिंदी कवि
हिंदी लेखक 
पता नहीं 
आप किस देश से हैं?

यहाँ क्लिक करके परिणाम देखें

इस अंक में

 

इस अंक की समग्र सामग्री पढ़ें

 

 

सम्पर्क करें

आपका नाम
ई-मेल
संदेश